Breaking News

योगी सरकार की छवि हो रही धूमिल खीरी थानें में मिलता है अपराधियों को संरक्षण* इलाहाबाद एक्सप्रेस-अरुण सोनकर

*योगी सरकार की छवि हो रही धूमिल खीरी थानें में मिलता है अपराधियों को संरक्षण*

इलाहाबाद एक्सप्रेस-अरुण सोनकर

प्रयागराज । जनपद के खीरी थाना प्रभारी सन्तोष कुमार सिंह इस समय अपराधियों को संरक्षण देकर अवैध वसूली में पूरी तरह से संलिप्त हो चुके हैं।आईजी के.पी.सिंह का आदेश भी थाना प्रभारी के लिए बेअसर होता है । ऐसा ही एक मामला प्रकाश में आया है जिसमें आईजी द्वारा खीरी थाना प्रभारी को अपराधी पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है । सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार निर्देश देखते ही मगरूर थाना प्रभारी गुस्से से आग बबूला हो गया और उस टॉपटेन अपराधी को सांठ -गाँठ के तहत थानें में बुलाकर आईजी के आदेश की प्रति सिपाही से फोटो कॉपी कराकर दिया और उसको संरक्षण देते हुए कहा कि जाकर इसके खिलाफ एसडीएम मेजा से स्टे लेकर आओ नहीं तो मैं मदद नहीं कर पाऊँगा । सन्तोष कुमार सिंह के इस कृत्य को देखकर वहाँ मौजूद सिपाही भी आश्चर्य चकित रह गए, मगर वह सब कर भी क्या सकते थे । पीड़ित का आरोप है कि मेजा तहसील अन्तर्गत लालतारा स्थित गड़ार मौजा में एन.एस.जे .एवं निशा ज्योति उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की अराजी संख्या 170,174 रकबा दो बीघा है जिसमें से सड़क की ओर का कुछ हिस्सा कतिपय टॉपटेन अपराधी भ्रष्ट थाना प्रभारी सन्तोष सिंह की मिली भगत से गुण्डई के बल पर जबरन कब्जा करने का अनैतिक प्रयास कर रहा है । जिसके खिलाफ विद्यालय प्रबन्धक की शिकायत पर एसडीएम मेजा के निर्देश पर राजस्व निरीक्षक की टीम नें क्षेत्र के लेखपाल के साथ उक्त भूमि की पैमाइश कर आख्या एसडीएम मेजा को प्रेषित कर दिया । जिसपर एसडीएम ने थानाप्रभारी खीरी को स्प्ष्ट निर्देश दिया कि विपक्षी का निर्माण कार्य रूकवाकर शान्ति वयवस्था सुनिश्चित करायें ।
*आईजी के निर्देश पर थानाप्रभारी* *सन्तोष कुमार सिंह हुए* *आगबबूला*) जिसकी कॉपी लेकर विद्यालय प्रबन्धक थानाप्रभारी के समक्ष गए जिसपर उन्होंने प्रबन्धक से मोटी रकम की माँग किया जिसको देनें में प्रबन्धक ने असमर्थता जताई तो सन्तोष सिंह ने मदद से इन्कार कर दिया। आदेश की कॉपी लेकर प्रबन्धक आईजी प्रयागराज के.पी.सिंह के समक्ष पेश होकर आपबीती बताई और मदद माँगी जिसपर आईजी ने तत्काल खीरी थानाप्रभारी को पीड़ित पक्ष की मदद करने को निर्देशित किया मगर भ्रष्ट थानाप्रभारी आईजी के निर्देश को धता बता कर टॉपटेन अपराधी की मदद कर रहा है जिससे पीड़ित को न्याय नहीं मिल पा रहा है । अब सवाल यह उठता है कि सूबे की योगी सरकार ने जहाँ एक ओर अपराधियों के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है वहीं सन्तोष सिंह जैसे थानाप्रभारी योगी सरकार की छवि को धूमिल करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है । क्या ऐसे ही भ्रष्ट पुलिसकर्मियों के भरोसे प्रदेश अपराध मुक्त होगा यह एक बड़ा सवाल है ?

Check Also

अब थाने में बेहिचक जा सकेंगी महिलाएं, हेल्प डेस्क के जरिये खुलकर कह सकेंगी अपनी बात- सुधा गुप्ता*

🔊 Listen to this *अब थाने में बेहिचक जा सकेंगी महिलाएं, हेल्प डेस्क के जरिये …