Breaking News

जिला सूचना कार्यालय प्रयागराज द्वारा प्राप्त समाचार*

*जिला सूचना कार्यालय प्रयागराज द्वारा प्राप्त समाचार*

*महर्षि वाल्मीकि जयंती का भव्य एवं सुरूचिपूर्ण ढंग से किया जायेगा आयोजन*
चयनित मंदिरों एवं स्थलों पर दीप प्रज्जवलन व दीपदान के साथ-साथ वाल्मीकि रामायण पाठ का किया जायेगा आयोजन
30 अक्टूबर, 2020 प्रयागराज।
महर्षि वाल्मीकि जयंती दिनांक 31 अक्टूबर, 2020 को दिव्य, भव्य एवं सुरूचिपूर्ण ढंग से आयोजित की जायेगी। शुक्रवार को मुख्य विकास अधिकारी श्री आशीष कुमार की अध्यक्षता में संगम सभागार में महर्षि वाल्मीकि जयंती के भव्य एवं सुरूचि पूर्ण ढंग से मनाये जाने की तैयारियों के सम्बंध में बैठक आयोजित की गयी। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने आयोजन को सकुशल एवं सुरूचिपूर्ण ढंग से मनाये जाने हेतु अधिकारियों का दायित्व निर्धारित करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये है, जिसमें जिला कार्यक्रम अधिकारी/जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को जनपद स्तर पर चयनित स्थलों/मंदिरों में वाल्मीकि रामायण के पाठ को सकुशल ढंग से कराये जाने, जिला पंचायतराज अधिकारी को चयनित मंदिरों/स्थलों की साफ-सफाई, दीप प्रज्जवलन, दीपदान, लाइटिंग, साउण्ड व्यवस्था व बैठने हेतु आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के निर्देश दिये है। चयनित मंदिरों/स्थलों में कार्यक्रम के दौरान कोविड-19 हेतु शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों व गाइड लाइन का कड़ाई से अनुपालन एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन सुनिश्चित कराये जाने हेतु जिला युवा कल्याण अधिकारी को निर्देशित किया गया है। कार्यक्रम का प्रचार-प्रसार करने हेतु जिला सूचना अधिकारी को निर्देशित किया गया है। उप निदेशक पर्यटन एवं जिला समाज कल्याण अधिकारी को चिन्हित स्थल पर आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये है। मुख्य विकास अधिकारी ने समस्त उपजिलाधिकारियों एवं समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र के अन्तर्गत चयनित स्थलों/मंदिरों पर वाल्मीकि जयंती का आयोजन, दीप प्रज्जवलन, दीपदान आदि कार्यक्रमों को सकुशल ढंग से सम्पन्न कराये जाने के लिए निर्देशित किया गया है।
जनपद में महर्षि वाल्मीकि जयंती के अवसर पर दीप प्रज्जवलन, भजन एवं वाल्मीकि रामायण पाठ आदि आयोजन कराये जाने हेतु 11 स्थलों/मंदिरों का चयन किया गया है, जिसमें माता शान्ता-श्रृंग ऋषि मंदिर आश्रम, श्रृंगवेरपुर धाम, तहसील सोरांव, भारद्वाज आश्रम तहसील सदर, बड़े/लेटे हनुमान जी, त्रिवेणी संगम, तहसील सदर, महाभारत कालीन लाक्षागृह स्थल, तहसील हण्डिया, मनकामेश्वर मंदिर, लालापुर, तहसील बारा, दुर्वाषा ऋषि आश्रम, ककरा दुबावल, तहसील फूलपुर, ब्रम्ह सुदिष्ट धाम, परानी पुर, तहसील मेजा, श्री चक्र माधव मंदिर, अरैल, तहसील करछना, श्री आदि वेणी माधव, अरैल, तहसील करछना, श्री तक्षकेश्वर नाथ, तक्षक तीर्थ, दरियाबाद, तहसील सदर, वाल्मीकि आश्रम, गडैला तहसील करछना है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन विजय शंकर दुबे, उप निदेशक पर्यटन, समाज कल्याण अधिकारी सहित अन्य सम्बंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे

Check Also

*खीरी थाना प्रभारी संतोष कुमार सिंह के हाथ लगी बड़ी सफलता घटना को अंजाम देने वाले मास्टरमाइंड समेत अपराधी को भेजा गया जेल

🔊 Listen to this *खीरी पुलिस ने घटना का किया खुलासा शातिर अपराधी को गिरफ्तार …